राक्षस गिरफ्तार ❓ हिन्दूओं की बड़ी जीत. हिन्दू धर्म के खिलाफ जहर उगलने वाला बसपा से निकाला हुआ पूर्व MLA शिंगारा राम शाहुंग्रा को घर से उठा लाई पुलिस, कोर्ट ने 14 दिन की ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा





 

पंजाब (अमन बग्गा)एक बार फिर हिन्दू समाज की बड़ी जीत हुई है। हिन्दू देवी देवताओं के खिलाफ जहर उगलने वालो के मुह पर करारा तमाचा लगा है।

पंजाब के होशियारपुर जिले में गढ़शंकर शहर में रहने वाला घोर हिन्दू विरोधी बसपा का पूर्व विधायक शिंगारा राम शाहुंग्रा को उस के पापकर्मो की सजा मिलनी शुरू हो गयी है।

बीते दिनी पंजाब बंद के दौरान हिन्दू विरोधी शिंगारा राम शाहुंग्रा ने सुनियोजित साजिश के तहत पंजाब बन्द  की आड़ में हिन्दू देवी देवताओं के खिलाफ इतने ज्यादा गंदे व भद्दे शब्दों से जहर उगला की जिसे सुनकर हर हिन्दू का खून खोल उठे। 

पुलिस शिकायत दर्ज होने के बाद शिंगारा राम शाहुंग्रा को उस के घर गढ़शंकर से पुलिस ने उठा लिया है।  जालंधर निवासी सन्नी शर्मा की शिकायत पर शाहुंग्रा के खिलाफ 124 A के तहत और शहीद भगत सिंह नगर के हिन्दू नेता ऋषि राज की शिकायत पर 295A 153 208 505 आदि गम्भीर धाराओं के तहत मामला दर्ज कर पुलिस ने शहीद भगत सिंह जिला कोर्ट में पेश किया है यहाँ कोर्ट ने पूर्व MLA को 14 दिन की ज्यूडिशियल रिमांड पर जेल भेज दिया है।

गौरतलब ये है कि शाहुंग्रा के खिलाफ 124 A उम्रकैद की सजा की धारा के तहत FIR दर्ज की गई है।

 

वही हिन्दू संगठनों के नेता निशांत शर्मा, पवन गुप्ता , आशीष बोन्नी, योगेश धीर, अश्वनी शर्मा, इशांत शर्मा, अशोक सरीन, रोहित जोशी सुतीक्षण समरोल, का कहना है कि शिंगारा राम शाहुंग्रा का साजिशन इस तरह की शब्दावली इस्तेमाल कर एससी समाज व जनरल समाज के लोगों में दंगे भड़काने का षडयंत्र था।

पंजाब बन्द के दौरान पंजाब की जनता को भड़काकर जातीय दंगे और हिंसक माहौल के लिए सोची समझी साजिश के तहत शिंगारा राम शाहुंग्रा ने हिन्दू देवी देवताओं केे खिलाफ जहर उगला है। इस लिए शिंगारा राम शाहुंग्रा पर सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

आप को बता दे कि शिंगारा राम शाहुंग्रा पंजाब के होशियारपुर जिले में गढ़शंकर सीट से 1992 और 1997 में विधायक रह चुका है काशी राम ने आखिरी दिनों में शिंगारा राम शाहुंग्रा को बीएसपी से निकाल दिया था। 

error: Content is protected !!